मतदाता हेल्पलाइन ऐप (एंड्राइड के लिए)
अंग्रेज़ी में देखें   |   मुख्य विषयवस्तु में जाएं   |   स्क्रीन रीडर एक्सेस   |   A-   |   A+   |   थीम
Jump to content

मतदान केंद्रों पर बीयू एवं वीवीपीएटी की कनेक्टिंग केबल की सुरक्षा के संबंध में अनुदेश – तत्‍संबंधी।


इस फाइल के बारे में

सं.51/8/7/2019-ईएमएस 
दिनांक: 30 दिसम्‍बर
, 2019

 

सेवा में,

      सभी राज्‍यों और संघ राज्‍य क्षेत्रों के 
      
मुख्‍य निर्वाचन अधिकारी।

 

विषय: मतदान केंद्रों पर बीयू एवं वीवीपीएटी की कनेक्टिंग केबल की सुरक्षा के संबंध में अनुदेश – तत्‍संबंधी।

 महोदय/महोदया,

      मुझे यह कहने का निदेश हुआ है कि दिनांक 04.12.2019 को टीईसी और विनिर्माताओं के साथ हुई बैठक में यह इंगित किया गया था कि मतदान केंद्र पर, बीयू और वीवीपीएटी के कनेक्टिंग तार की सुरक्षा अति आवश्‍यक है, क्‍योंकि वीवीपीएटी और बैलेट यूनिट से जुड़े हुए लटकते तार के भार की वजह से बीयू/वीवीपीएटी के कनेक्टिंग सॉकेट को क्षति पहुंच सकती है, जिससे कनेक्‍शन बाधित हो सकता है और यूनिट खराब हो सकती है।

       इस प्रकार की अप्रिय स्थिति से बचने के लिए, यह सुझाव दिया गया था कि बीयू, सीयू और वीवीपीएटी का उचित प्रकार से कनेक्‍शन करने के बाद, कनेक्टिंग तारों को मेज के पाए से सटाकर इस प्रकार टेप लगा दी जाए, ताकि तार हवा में नहीं लटके जिससे कि बीयू एवं वीवीपीएटी के कनेक्टिंग स्विच पर लटकते हुए तार के भार का प्रभाव नहीं पड़े और आवश्‍यकता पड़ने पर यूनिटों (बीयू/सीयू/वीवीपीएटी) के प्रतिस्‍थापन के दौरान टेप को सरलतापूर्वक हटाया जा सके।

       तदनुसार, आपसे निवेदन है कि उपर्युक्‍त प्रयोजनार्थ पीठासीन अधिकारियों को एक आधा इंच चौड़ी पारदर्शी टेप प्रदान करें और पीठासीन अधिकारियों के प्रशिक्षण में इस गतिविधि को शामिल करें। यह भी ध्‍यान दिया जाना चाहिए कि टेपिंग केवल ‘‘पारदर्शी चिपकने वाली टेप’’ से इस प्रकार की जानी चाहिए जिससे कि कनेक्टिंग तारों की दृश्‍यता प्रभावित नहीं हो और आवश्‍यकतानुसार यूनिटों (बीयू/सीयू/वीवीपीएटी) के प्रतिस्‍थापन के समय इसे आसानी से हटाया जा सके।

       उपर्युक्‍त अनुदेशों का सख्‍ती से अनुपालन हेतु सभी संबंधितों के ध्‍यान में लाया जाए।

 

भवदीय

ह./-

(लता त्रिपाठी)

अवर सचिव


ईसीआई मुख्य वेबसाइट


eci-logo.pngभारत निर्वाचन आयोग एक स्‍वायत्‍त संवैधानिक प्राधिकरण है जो भारत में निर्वाचन प्रक्रियाओं के संचालन के लिए उत्‍तरदायी है। यह निकाय भारत में लोक सभा, राज्‍य सभा, राज्‍य विधान सभाओं और देश में राष्‍ट्रपति एवं उप-राष्‍ट्रपति के पदों के लिए निर्वाचनों का संचालन करता है। निर्वाचन आयोग संविधान के अनुच्‍छेद 324 और बाद में अधिनियमित लोक प्रतिनिधित्‍व अधिनियम के प्राधिकार के तहत कार्य करता है। 

मतदाता हेल्पलाइन ऍप

हमारा मोबाइल ऐप ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ प्‍ले स्‍टोर एवं ऐप स्टोर से डाउनलोड करें। ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ ऐप आपको निर्वाचक नामावली में अपना नाम खोजने, ऑनलाइन प्ररूप भरने, निर्वाचनों के बारे में जानने, और सबसे महत्‍वपूर्ण शिकायत दर्ज करने की आसान सुविधा उपलब्‍ध कराता है। आपकी भारत निर्वाचन आयोग के बारे में हरेक बात तक पहुंच होगी। आप नवीनतम  प्रेस विज्ञप्ति, वर्तमान समाचार, आयोजनों,  गैलरी तथा और भी बहुत कुछ देख सकते हैं। 
आप अपने आवेदन प्ररूप और अपनी शिकायत की वस्‍तु स्थिति के बारे में पता कर सकते हैं। डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। आवेदन के अंदर दिए गए लिंक से अपना फीडबैक देना न भूलें। 

×
×
  • Create New...