मतदाता हेल्पलाइन ऐप (एंड्राइड के लिए)
अंग्रेज़ी में देखें   |   मुख्य विषयवस्तु में जाएं   |   स्क्रीन रीडर एक्सेस   |   A-   |   A+   |   थीम
Jump to content

मुख्य निर्वाचन आयुक्त मुख्य सचिव पश्चिम बंगाल के साथ एक समीक्षा बैठक आयोजित करते हैं


इस फाइल के बारे में

सं. ईसीआई/प्रे.नो./55/2021                         
दिनांकः 24 अप्रैल, 2021

 

प्रेस नोट 

मुख्य निर्वाचन आयुक्त मुख्य सचिव पश्चिम बंगाल के साथ एक समीक्षा बैठक आयोजित करते हैं 

आज मुख्य निर्वाचन आयुक्त श्री सुशील चंद्रा और निर्वाचन आयुक्त श्री राजीव कुमार के नेतृत्व में निर्वाचन आयोग ने मुख्य सचिव, एसीएस (गृह), सचिव (आपदा प्रबंधन), सचिव (स्वास्थ्य), डीजीपी, सीपी कोलकाता के साथ पश्चिम बंगाल के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की। मुख्य निर्वाचन अधिकारी पश्चिम बंगाल और राज्य पुलिस नोडल अधिकारी सह एडीजी (एलएंडओ) भी उपस्थित थे। 

आयोग ने चिंता व्यक्त की कि निर्वाचन हेतु सार्वजनिक अभियानों के दौरान, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के अन्तर्गत प्रवर्तन पर्याप्त से कम रहा है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की कार्यकारी समिति, जिसकी अध्यक्षता राज्य के मुख्य सचिव द्वारा की गई और अधिनियम, 2005 के अधीन कोविड-19 के उचित व्यवहार के लागू होने के साथ काम किया, अपनी निर्धारित संवैधानिक कर्त्तव्य को पूरा करने की आवश्यकता है। जिला तंत्र, जो निर्वाचन कार्यों के साथ काम करती है, आपदा प्रबंधन अधिनियम सहित अन्य कानूनों को लागू करने के लिए जिम्मेदार बनी रहती है। आयोग ने निदेश दिया कि एसडीएमए और इसके पदाधिकारियों को लागू करना चाहिए तथा अभियान के दौरान कोविड मानदंडों के कार्यान्वयन की निगरानी करनी चाहिए और किसी उल्लंघन के मामले में उचित कार्रवाई करनी चाहिए। मुख्य सचिव ने आयोग को सूचना दी कि राज्य की प्राप्ति में है और निर्वाचन के दौरान कोविड-19 मानदंडों के लागू करने पर भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों को आगे जारी किया गया। उन्होंने सुनिश्चित किया कि संपूर्ण तंत्र को अब निदेश दिया गया है कि अधिनियम के अधीन विद्यमान अनुदेशों के संवेदनशीलता और प्रवर्तन के लिए और अधिक कठोर एवं त्वरित कदम उठाए जाए। 

आयोग ने मतदान बूथ में कोविड संबंधी उचित व्यवहार और बायो-मेडीकल वेस्ट के सुरक्षित निपटान के लिए त्रुटिरहित प्रबंधों में राज्य की व्यवस्था की सराहना की। यह सूचित किया गया कि आयोग द्वारा दिए गए अनुदेशों के अनुसार निर्वाचन उद्देश्यों के लिए निम्नलिखित सामग्री उपलब्ध करवाई गई है 

क्र.सं.

मदें

खरीदी गई संख्या

1

फेस मास्क

2,46,88,000

2

मतदान कार्मिक और एमओ के लिए फेस शील्ड

17,05,851

3

फेस शील्ड के लिए वाइजर

16,81,680

4

मतदान कार्मिक और एमओ के उपयोग के लिए 100 एमएल हैंड सेनिटाइजर

18,35,833

5

निर्वाचकों के उपयोग के लिए 500 एमएल हैंड सेनिटाइजर

2,72,000

6

2 लीटर जेरीकेन हैंड सेनिटाइजर

1,52,000

7

पीपीई (बॉडी शूट, एन 95 मास्क, दस्ताने, फेस शील्ड, गोग्लस, हेड कवर, शूज कवर)

1,31,600

8

निर्वाचकों के लिए प्लास्टिक हैंड ग्लब्स (एकल) (85% टर्न आउट पर विचार करते हुए)

9,00,00,000

9

पीपी रबर के लिए हैंड ग्लब्स (जोड़ी में)

53,76,000

10

ढके हुए डस्टबिन (100 लीटर)

2,61,500

11

डस्टबिनों में लगाने के लिए प्लास्टिक बैग (24")

6,26,000

स्वास्थ्य सचिव ने भी सूचना दी कि आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुसार प्रत्येक 294 विधान सभा निर्वाचन-क्षेत्रों को नोडल स्वास्थ्य अधिकारी सौंपे गए हैं, सभी 24 सीएमओएच राज्य स्तर के नोडल स्वास्थ्य अधिकारी के अलावा अपने जिले के लिए नोडल स्वास्थ्य अधिकारी हैं। उन्होंने यह भी सूचित किया कि बायो-मेडिकल वेस्ट के रूप में मतदान केंद्रों पर उपयोग के पश्चात मतदाताओं द्वारा निकाले गए दस्तानों के निपटान एवं संग्रहण के लिए विस्तृत प्रबन्ध किए गए हैं।     

मतदान केंद्रों पर कोविड संबंधी सुरक्षित प्रबन्धों को सुनिश्चित करते हुए पिछले 6 चरणों में किए गए अच्छे कार्य की प्रशंसा करते हुए, आयोग ने निदेश दिया कि कोविड शिकायत व्यवहार की नियमित निगरानी और उल्लंघनों के विरूद्ध की गई कार्रवाई प्राधिकारी द्वारा की जानी चाहिए। इसके अतिरिक्त यह निदेश दिया गया कि सभी मतदान केंद्रों पर कोविड संबंधी सुरक्षित एवं सुदृढ़ वातावरण के बारे में मतदाताओं को सूचित करने के लिए सराहना और प्रभावी संचार कार्यनीतियों को करना चाहिए जैसे कि सभी मतदान केंद्र सैनिटाइज किए जा रहे हैं, सभी मतदाता मास्क पहने और उन्हें हैंड ग्लब्स औरर हैंड सैनिटाइज सुविधा उपलब्ध कराए जा रहे हैं एवं कतारों में भी सामाजिक दूरी बनाई जा रही है। मुख्य सचिव ने आयोग को सुनिश्चित किया कि निर्वाचन उद्देश्यों के लिए सार्वजनिक सभाओं के दौरान कोविड सराहनीय व्यवहार लागू करने के लिए सभी कार्रवाई तथा अन्यथा आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के अधीन भी और अन्य सभी सुसंगत संवैधानिक प्रावधानों का आयोग द्वारा यथा निदेशित सुनिश्चित किया जाएगा।


जारी करने की तिथि

Saturday 24 April 2021
 Share


ईसीआई मुख्य वेबसाइट


eci-logo.pngभारत निर्वाचन आयोग एक स्‍वायत्‍त संवैधानिक प्राधिकरण है जो भारत में निर्वाचन प्रक्रियाओं के संचालन के लिए उत्‍तरदायी है। यह निकाय भारत में लोक सभा, राज्‍य सभा, राज्‍य विधान सभाओं और देश में राष्‍ट्रपति एवं उप-राष्‍ट्रपति के पदों के लिए निर्वाचनों का संचालन करता है। निर्वाचन आयोग संविधान के अनुच्‍छेद 324 और बाद में अधिनियमित लोक प्रतिनिधित्‍व अधिनियम के प्राधिकार के तहत कार्य करता है। 

मतदाता हेल्पलाइन ऍप

हमारा मोबाइल ऐप ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ प्‍ले स्‍टोर एवं ऐप स्टोर से डाउनलोड करें। ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ ऐप आपको निर्वाचक नामावली में अपना नाम खोजने, ऑनलाइन प्ररूप भरने, निर्वाचनों के बारे में जानने, और सबसे महत्‍वपूर्ण शिकायत दर्ज करने की आसान सुविधा उपलब्‍ध कराता है। आपकी भारत निर्वाचन आयोग के बारे में हरेक बात तक पहुंच होगी। आप नवीनतम  प्रेस विज्ञप्ति, वर्तमान समाचार, आयोजनों,  गैलरी तथा और भी बहुत कुछ देख सकते हैं। 
आप अपने आवेदन प्ररूप और अपनी शिकायत की वस्‍तु स्थिति के बारे में पता कर सकते हैं। डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। आवेदन के अंदर दिए गए लिंक से अपना फीडबैक देना न भूलें। 

×
×
  • Create New...