मतदाता हेल्पलाइन ऐप (एंड्राइड के लिए)
अंग्रेज़ी में देखें   |   मुख्य विषयवस्तु में जाएं   |   स्क्रीन रीडर एक्सेस   |   A-   |   A+   |   Theme
Jump to content

भारत निर्वाचन आयोग को कम्प्यूटिंग उपकरणों की आपूर्ति के लिए निविदा

  

About This File

सं. 485/कम्प्यूटर/कम्प्यूटिंग डिवाइस/आईसीटी/2019                         दिनांक: 23.04.2019

 निविदा आमंत्रण सूचना

भारत निर्वाचन की ओर से प्राधिकृत डीलरों से एल1 के आधार पर (i) 02 (दो) एचपी क्यूए180आईएन 27 इंच की स्क्रीन के साथ ऑल इन वन डेस्कटॉप, (ii) 01 (एक) एचपी मल्टीफंक्शनल प्रिंटर 180एन, (iii) 01 (एक) एचपी मल्टीफंक्शनल प्रिंटर 226डीडब्ल्यू और (iv) 01 (एक) लेनोवो योगा 530 लैपटॉप की आपूर्ति के लिए सीलबंद निविदाएं आमंत्रित की जाती हैं। निविदा सूचना के साथ संलग्न निर्धारित प्रारूप में दरों को उद्धृत किया जाएगा।

 2. इच्छुक एजेंसियों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी दरों को सीलबंद लिफाफे में उद्धृत करें जिसके ऊपर "भारत निर्वाचन आयोग को कम्प्यूटिंग उपकरणों की आपूर्ति के लिए निविदा" लिखा हो।

3.  इच्छुक डीलर / फर्में पूरी तरह से भरे हुए निविदा दस्तावेजों और अन्य अपेक्षित दस्तावेजों को अनुभाग अधिकारी (आईसीटी अनुभाग), भारत निर्वाचन आयोग, निर्वाचन सदन, अशोक रोड, नई दिल्ली-110001 को दिनांक 26.04.2019 को अपराह्न 2.00 बजे से पहले जमा कर सकते हैं।  सीलबंद निविदा को निर्वाचन सदन भवन के भूतल पर स्थित आर एन्ड आई अनुभाग में भी जमा करवाया जा सकता है। निविदा जमा करने की नियत तिथि और समय के बाद देरी से प्राप्त / विलंबित निविदा स्वीकार नहीं की जाएंगी। डाक से होने वाले नुकसान / विलम्ब के लिए भारत निर्वाचन आयोग उत्तरदायी नहीं होगा।

4. निविदा, निविदाकारों के प्रतिनिधि, यदि कोई हों, जो उस समय उस स्थान पर उपस्थित होने का इच्छुक हो, की उपस्थिति में आयोग द्वारा इस प्रयोजनार्थ नियुक्त की गई समिति द्वारा कमरा संख्या 509, निर्वाचन सदन, अशोक रोड, नई दिल्ली में 26.04.2019 को अपराह्न 2.30 बजे निर्धारित तिथि और समय पर खोली जाएगी।

5. भारत निर्वाचन आयोग कोई भी कारण बताए बिना निविदा के किसी भी स्तर पर आंशिक अथवा पूर्ण रूपेण किसी भी अथवा सभी निविदाओं को  स्वीकार या निरस्त करने का अधिकार सुरक्षित रखता है

 6. उपर्युक्त मदों की आपूर्ति अनुबंध-क के अनुसार क्रय आदेश प्राप्त होने के 3 दिनों के भीतर की जानी चाहिए। यदि फर्म अनुमोदित विनिर्देशन और दर के अनुसार निर्धारित समय के भीतर उपर्युक्त वस्तुओं की आपूर्ति करने में विफल रहती है, तो वह सक्षम अधिकारी द्वारा लगाए गए अर्थदंड की भागी होगी।

7. उपर्युक्त मदों की आपूर्ति पूरी तरह से अनुबंध-ए के अनुसार की जानी चाहिए। निविदाकर्ता सीधे या अपने प्राधिकृत प्रतिनिधि के माध्यम से बोली प्रस्तुत कर सकते हैं। यदि निविदा, निविदाकर्ता के प्राधिकृत प्रतिनिधि द्वारा प्रस्तुत की जाती है, तो निविदा निविदाकर्ता के कानूनी मुख्तारनामे के अंतर्गत प्राधिकृत प्रतिनिधि द्वारा हस्ताक्षरित और प्रस्तुत की जाएगी।

8. निविदा की लागत शून्य है। निविदा दस्तावेज हस्तांतरणीय नहीं हैं।

9. किसी भी विवाद के मामले में, भारत निर्वाचन आयोग का निर्णय अंतिम और बाध्यकारी होगा।

10. कार्य पूरा होने के बाद ही मूल बिल के प्रस्तुत करने पर ही सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली के माध्यम से भुगतान जारी किया जाएगा।




ईसीआई मुख्य वेबसाइट


eci-logo.pngभारत निर्वाचन आयोग एक स्‍वायत्‍त संवैधानिक प्राधिकरण है जो भारत में निर्वाचन प्रक्रियाओं के संचालन के लिए उत्‍तरदायी है। यह निकाय भारत में लोक सभा, राज्‍य सभा, राज्‍य विधान सभाओं और देश में राष्‍ट्रपति एवं उप-राष्‍ट्रपति के पदों के लिए निर्वाचनों का संचालन करता है। निर्वाचन आयोग संविधान के अनुच्‍छेद 324 और बाद में अधिनियमित लोक प्रतिनिधित्‍व अधिनियम के प्राधिकार के तहत कार्य करता है। 

मतदाता हेल्पलाइन ऍप

spacer.pngहमारा नया मोबाइल ऐप ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ प्‍ले स्‍टोर से डाउनलोड करें। ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ एन्‍ड्रॉड ऐप आपको निर्वाचक नामावली में अपना नाम खोजने, ऑनलाइन प्ररूप भरने, निर्वाचनों के बारे में जानने, और सबसे महत्‍वपूर्ण शिकायत दर्ज करने की आसान सुविधा उपलब्‍ध कराता है। आपकी भारत निर्वाचन आयोग के बारे में हरेक बात तक पहुंच होगी। आप नवीनतम  प्रेस विज्ञप्ति, वर्तमान समाचार, आयोजनों,  गैलरी तथा और भी बहुत कुछ देख सकते हैं। 
आप अपने आवेदन प्ररूप और अपनी शिकायत की वस्‍तु स्थिति के बारे में पता कर सकते हैं। डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। आवेदन के अंदर दिए गए लिंक से अपना फीडबैक देना न भूलें। 

×
×
  • Create New...