मतदाता हेल्पलाइन ऐप (एंड्राइड के लिए)
अंग्रेज़ी में देखें   |   मुख्य विषयवस्तु में जाएं   |   स्क्रीन रीडर एक्सेस   |   A-   |   A+   |   थीम
Jump to content

Use the Advance Search of Election Commission of India website

Showing results for tags 'voter helpline'.

  • टैग द्वारा खोजें

    Type tags separated by commas.
  • Search By Author

Content Type


श्रेणियाँ

  • वर्तमान मुद्दे
  • महत्वपूर्ण निर्देश
  • निविदा
  • प्रेस विज्ञप्तियाँ
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2020
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2019
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2018
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2017
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2016
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2015
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2014
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2013
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2012
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2011
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2010
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2009
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2008
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2007
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2006
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2005
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2004
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2003
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2002
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2001
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 2000
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 1999
    • प्रेस विज्ञप्तियाँ 1998
  • हैंडबुक, मैनुअल, मॉडल चेक लिस्ट
    • हैंडबुक
    • मैनुअल
    • मॉडल चेक लिस्ट
    • ऐतिहासिक निर्णय
    • अभिलेखागार
  • अनुदेशों के सार-संग्रह
    • अनुदेशों के सार-संग्रह (अभिलेखागार)
  • न्यायिक संदर्भ
    • के आधार पर निरर्हता -
    • अयोग्य व्यक्तियों की सूची
    • आदेश और नोटिस - आदर्श आचार संहिता
    • आदेश और नोटिस - विविध
  • ई वी एम
    • ई वी एम - ऑडियो फाइल
  • उम्मीदवार/ प्रत्याशी
    • उम्मीदवार/ प्रत्याशी के शपथ पत्र
    • उम्मीदवार/प्रत्याशी का निर्वाचन व्यय
    • उम्मीदवार/प्रत्याशी नामांकन और अन्य प्रपत्र
  • राजनीतिक दल
    • राजनीतिक दलों का पंजीकरण
    • राजनीतिक दलों की सूची
    • निर्वाचन चिह्न
    • राजनीतिक दलों का संविधान
    • संगठनात्मक चुनाव
    • पार्टियों की मान्यता / मान्यता रद्द करना
    • विवाद, विलय आदि
    • विविध, आदेश, नोटिस, आदि
    • पारदर्शिता दिशानिर्देश
    • वर्तमान निर्देश
    • योगदान रिपोर्ट
    • इलेक्टोरल ट्रस्ट
    • व्यय रिपोर्ट
    • वार्षिक लेखा परीक्षा रिपोर्ट
  • साधारण निर्वाचन
  • विधानसभा निर्वाचन
  • उप-निर्वाचन
  • उप-निर्वाचन के परिणाम
  • राष्ट्रपति निर्वाचन
  • सांख्यिकीय रिपोर्ट
  • पुस्तकालय और प्रकाशन
  • न्यूज़लैटर
  • साइबर सुरक्षा न्यूज़लैटर
  • प्रशिक्षण सामग्री
  • निर्वाचक नामावली
  • परिसीमन
  • परिसीमन वेबसाइट
  • अंतरराष्ट्रीय सहयोग
  • बेस्ट शेयरिंग पोर्टल
  • निर्वाचन घोषणापत्र
  • राजभाषा
  • संचार
  • प्रस्तावित निर्वाचन सुधार
  • प्रेक्षक निर्देश
  • प्रवासी मतदाता
  • अंतरराष्ट्रीय सहयोग
  • अन्य संसाधन
  • अभिलेखागार

Categories

  • निर्वाचन
    • राज्यों की परिषद के लिए निर्वाचन
    • राष्ट्रपतिय निर्वाचन
    • आरओ/डीईओ के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
    • निर्वाचन तन्त्र
    • संसद
    • निर्वाचन क्षेत्रों का परिसीमन
    • निर्वाचनों में खड़ा होना
    • परिणाम की गणना एवं घोषणा
  • मतदाता
    • सामान्य मतदाता
    • प्रवासी मतदाता
    • सेवा मतदाता
  • ई वी ऍम
    • सामान्य प्रश्न / उत्तर
    • सुरक्षा विशेषताएं
  • राजनीतिक दलों का पंजीकरण
  • आदर्श आचार संहिता

Categories

  • ईवीएम जागरूकता फिल्में
  • ईवीएम प्रशिक्षण फिल्में

Categories

  • मतदाता हेल्पलाइन ऍप
  • सी विजिल
  • उम्मीदवार सुविधा ऍप
  • पी डव्लू डी ऍप
  • वोटर टर्न आउट ऐप

Categories

  • Web Applications
  • Mobile Applications

Find results in...

ऐसे परिणाम ढूंढें जिनमें सम्‍मिलित हों....


Date Created

  • Start

    End


Last Updated

  • Start

    End


Filter by number of...

Found 17 results

  1. 31 downloads

    सं.ईसीआई/प्रे.नो./21/2020 दिनांकः 10 फरवरी, 2020 प्रेस नोट राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की विधान सभा के साधारण निर्वाचन, 2020 के लिए परिणाम के रुझानों के प्रसार हेतु व्यवस्था-11 फरवरी, 2020 दिल्ली विधानसभा निर्वाचनों के परिणाम रुझान सभी मतगणना केंद्रों के अलावा निम्नलिखित स्थानों पर 11 फरवरी, 2020 को सुबह 8 बजे से उपलब्ध होंगे। 1. परिणाम भारतीय निर्वाचन आयोग की वेबसाइट http://results.eci.gov.in पर प्रदर्शित किए जाते हैं और प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र के मौजूदा दौर-वार परिणाम प्रदर्शित करने के लिए कुछ-कुछ मिनटों बाद अद्यतन किए जाते हैं। 2. परिणाम गूगल प्ले स्टोर और एप्पल एप स्टोर पर उपलब्ध “मतदाता हेल्पलाइन” मोबाइल एप पर भी उपलब्ध हैं। रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा उनके संबंधित मतगणना केंद्रों से प्रणाली में भरी गई सूचना वेबसाइट/मोबाइल एप पर दिखाई जाएगी।
  2. 25 downloads

    सं. ईसीआई/प्रे.नो./08/2020 दिनांकः 17 जनवरी, 2020 प्रेस नोट विषयः सी-विजिल और मतदाता हेल्पलाइन एप के लिए भारत निर्वाचन आयोग 'उत्कृष्टता पुरस्कार' से सम्मानित भारत निर्वाचन आयोग की दो नवीन आईसीटी एप्लीकेशनों अर्थात 'सी-विजिल’ और 'मतदाता हेल्पलाइन एप’, जो आयोग में ही विकसित किए गए थे, ने वर्ष 2019 के लिए ई-गवर्नेंस का 'उत्कृष्टता पुरस्कार' जीता है। यह पुरस्कार केआईआईटी, भुवनेश्वर में दिया गया। डॉ. कुशल पाठक, निदेशक आईसीटी और सीआईएसओ, ईसीआई और श्री सुशील कुमार लोहानी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी, ओडिशा ने भारत निर्वाचन आयोग की ओर से यह पुरस्कार प्राप्त किया। ये पुरस्कार कंप्यूटर सोसाइटी ऑफ इंडिया (सीएसआई), ई-गवर्नेंस पर विशेष रुचि समूह (सीएसआई एसआईजी ई-गव) द्वारा दिनांक 17, जनवरी 2020 को केआईआईटी, भुवनेश्वर में प्रदान किए गए। सी-विजिल निर्वाचनों के दौरान आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने जैसे, रिश्वतखोरी, मुफ्त उपहार, शराब वितरण, अनुमत्य समय के बाद लाउडस्पीकर बजाने वालों के खिलाफ नागरिकों को रिपोर्ट करने के लिए सशक्त बनाता है। इस साधारण मोबाइल एप का उपयोग करके नागरिक लाइव फोटो या वीडियो कैप्चर करते हैं। निर्वाचन तंत्र उल्लंघन का साक्ष्यिक सबूत मिलते ही तुरंत कार्रवाई करने के लिए तैयार हो जाता है। हर सी-विजिल मामले पर कार्रवाई की जाती है और 100 मिनट की समयावधि के दौरान की गई कार्रवाई के साथ वापिस जवाब भेजा जाता है। अब दिल्ली निर्वाचनों में सी-विजिल का इस्तेमाल किया जा रहा है। अक्तूबर-दिसंबर 2018 के दौरान पांच राज्यों के विधानसभा साधारण निर्वाचनों में अपनी पहली प्रायोगिक शुरूआत से लेकर नवंबर-दिसंबर 2019 के दौरान झारखंड राज्य में विधानसभा के साधारण निर्वाचनों तक, सी-विजिल के माध्यम से कुल 1,71,745 मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें से 1,27,567 (74%) मामलों को सही पाया गया है। मोबाइल एप गूगल प्ले स्टोर पर यहां: https://play.google.com/store/apps/details?id=in.nic.eci.cvigil&hl=en_IN और एप्पल स्टोर में यहां: https://apps.apple.com/in/app/cvigil/id145571954141 उपलब्ध हैं। गूगल और एप्पल के एप स्टोरों से 2.16 करोड़ डाउनलोड के साथ 'मतदाता हेल्पलाइन एप', राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता एप्लीकेशन ने नागरिकों के सशक्तिकरण के लिए एक प्रमुख साधन के रूप में जड़ें जमा ली हैं। यह एप्लीकेशन मतदाताओं को 90 करोड़ से अधिक मतदाता डेटाबेस में अपना नाम खोजने, नए मतदाता पंजीकरण के लिए फॉर्म भरने, माइग्रेशन और संशोधन करने, डिजिटल फोटो मतदाता पर्चियों को डाउनलोड करने, निर्वाचन में खड़े अभ्यर्थियों और उनके शपथपत्रों के बारे में पूरी जानकारी प्रदर्शित करने और सबसे महत्वपूर्ण रूप से मतदाताओं को वास्तविक समय में परिणाम देखने के लिए एक विकल्प प्रदान करती है। यह एप्लीकेशन गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर पर उपलब्ध है। भारत निर्वाचन आयोग की आईसीटी पहल के लिए ये 'उत्कृष्टता पुरस्कार' भारत निर्वाचन आयोग के आईसीटी विजन और नागरिकों एवं स्टेकहोल्डरों के लाभार्थ उपयोग करने के लिए ई-गवर्नेंस संबंधी पहल लाने में सभी स्तरों पर ईसीआई के अधिकारियों के प्रयासों हेतु स्वीकारोक्ति है।
  3. 13 downloads

    Press Note Subject: New Arrangement made by Election Commission of India for prompt and accurate dissemination of results of Assembly Election and bye-elections of Oct 2019 In a first, the Election Commission of India has deployed an integrated ICT counting application which gives freedom to Returning Officers spread across the country to directly compute and enter the result data on the ECI new counting application. This application allows the Returning Officers to enter table-wise data in the software, thereby considerably reducing the time and makes the results & trends data error-free. Team ICT headed by Dr Sandeep Saxena, Sr Deputy Election Commissioner and others with Shri. Sunil Arora, Chief Election Commissioner, in front of the Election Trends TV Panel at Nirvachan Sadan, New Delhi 2. The counting software developed by the IT team of ECI called ENCORE (Enabling Communications on Real-time Environment) allows generation of various types of statutory reports during counting process which are mandatory for Returning Officers such as Form 20 Preparation/ Compilation of Final Result Sheet, 21C/D for Formal Declaration of Result and Form 21 E for Certificate of Return of Elections. The Returning Officer can download these system-generated reports after the counting is over and complete the statutory requirements in a hassle-free environment. 3. For the first time, the Election Commission of India has launched Election Trends TV, on which the graphically-rich micro-details of trends & results are published in real-time. As and when the counting data of each round is entered after officially been declared by the Returning Officers, the data is displayed on the Election Trends TV, without any manual intervention using advanced secure technologies. These panels can be customized and configured, for display automatically in public places using large TV Panels by Returning Officers & Chief Electoral Officers. 4. During today’s counting dissemination of trends and results are made with enhanced infographics and increased details through the ECI’s very popular mobile app ‘Voter Helpline App’ which is available from the Google Play Store and Apple App Store for free download. The user can bookmark their favourite candidate and closely follow the results in a comprehensive manner.
  4. 3,558 downloads

    भा.नि.आ./प्रे.नो./16/2019 दिनांक 08.02.2019 प्रेस नोट विषय : भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आगामी साधारण निर्वाचन 2019 के लिए मतदाता सत्‍यापन सूचना कार्यक्रम (वीवीआईपी) का शुभारंभ भारत निर्वाचन आयोग ने आगामी साधारण निर्वाचन 2019 के लिए नागरिकों हेतु उनके नामों, नए रजिस्ट्रीकरणों, मतदाता विवरणों में परिवर्तनों और मतदाता पहचान पत्रों में शुद्धि के लिए मतदाता सत्‍यापन एवं सूचना कार्यक्रम (वीवीआईपी) का शुभारंभ किया है। भारत निर्वाचन आयोग ने इस वीवीआईपी कार्यक्रम के लिए अनेक चैनलों से मदद ली है। भारत निर्वाचन आयोग ने समस्त भारत में सभी जिलों में सम्पर्क केन्द्र भी स्थापित किए हैं। वोटर हेल्पलाइन नम्बर 1950 है। कॉल करने वालों की सहायता करने के लिए सम्पर्क केन्द्रों में नवीनतम सूचना एवं टेलीकॉम अवसंरचना उपलब्ध करवाई गई है । साधारण निर्वाचन 2019 के संचालन के लिए वीवीआईपी कार्यक्रम का शुभारंभ सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी के प्रयोग से संबंधित 2 दिवसीय गहन प्रशिक्षण-सह-कार्यशाला के दौरान किया गया था । प्रशिक्षण-सह-कार्यशाला में सभी राज्यों एवं संघ शासित क्षेत्रों के मुख्य अपर निर्वाचन अधिकारियों, आईटी प्रभारियों, नोडल अधिकारियों, राज्य स्तरीय मास्टर प्रशिक्षकों एवं तकनीकी रिसोर्स व्यक्तियों ने भाग लिया । इस अवसर पर बोलते हुए, निर्वाचन आयुक्‍त, श्री अशोक लवासा ने कहा कि प्रौद्योगिकी की ताकत यह है कि इसे सभी लोगों के इस्‍तेमाल करने के लिए आसान बनाया जा सकता है। उन्होंने कार्यशाला में भाग ले रहे व्‍यक्तियों को इन विषयों को आत्मसात करने और आगे इन्‍हें सभी को व्यापक रूप से समझाने के लिए प्रोत्साहित किया । श्री लवासा ने प्रतिभागियों को स्मरण दिलाया कि भारत निर्वाचन आयोग के प्रयासों का केन्द्रीय थीम निर्वाचनों को अधिकाधिक समावेशी बनाना है। इन एप्‍लीकेशनों के प्रयोग से, उचित प्रतिक्रियाएं सुनिश्चित की जानी चाहिए क्योंकि नागरिक अच्छी गुणवत्ता वाली सेवाओं की मांग करते हैं । मुख्य निर्वाचन आयुक्त, श्री सुनील अरोड़ा ने कहा कि प्रौद्योगिकी वास्तव में एक प्रमुख स्थिति परिवर्तक है । प्रशिक्षण कार्यशालाओं में मुख्य उद्देश्य सुनना, सीखना, आत्मसात करना और उसका उपयोग करना होना चाहिए । उन्होंने संकेत दिया कि अब निर्वाचनों में कुछ ही समय बचा है और जो कुछ भी सीखा हुआ है उसे पूरी तरह समेकित करके मतदाता को सुविधाएं प्रदान करने में उसका उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए । सभी राज्यों एवं संघ शासित क्षेत्रों को जिन एप्लीकेशन के लिए प्रशिक्षण दिया गया था उनमें से एक महत्वपूर्ण एप्लीकेशन सी विजिल था । सी विजिल एप आदर्श आचार संहिता / व्यय उल्लंघन का समय अंकित करते हुए, साक्ष्य आधारित सबूत उपलब्ध करवाता है जिसमें अपने आप अवस्थिति सम्‍बन्‍धी आंकड़ों के साथ-साथ सजीव फोटो / वीडियो आ जाते हैं । कोई भी नागरिक मोबाइल एप के माध्यम से शिकायत दर्ज कर सकता है । उसके बाद उड़न दस्ते मामले की छानबीन करते हैं और रिटर्निंग अधिकारी निर्णय लेता है । निर्धारित समय सीमा के भीतर सी विजिल की वस्‍तुस्थिति को सी विजिल शिकायतकर्ता के साथ साझा किया जा सकता है । इस अवसर पर सी विजिल प्रयोक्ता मैनुअल एवं ईवीएम प्रबंधन प्रणाली प्रयोक्ता मैनुअल भी जारी किए गए । आज 'वोटर हेल्पलाइन' नामक एक नया एंड्राएड आधारित मोबाइल एप भी शुरू किया गया । यह एप सभी नागरिकों को निर्वाचक नामावली में अपने नामों को ढूंढने, ऑनलाइन फार्म भेजने, एप्लीकेशन की स्थिति की जांच करने, शिकायत दर्ज करने और अपने मोबाइल एप पर उत्तर प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करता है । इस मोबाइल एप के माध्यम से सभी फार्म, परिणाम, अभ्यर्थी शपथ पत्र, प्रेस नोट, मतदाता जागरूकता और महत्वपूर्ण अनुदेश उपलब्ध हैं । दिव्यांग व्यक्तियों को नए रजिस्ट्रीकरण, पते में परिवर्तन, विवरणों में परिवर्तन और मोबाइल एप्लीकेशन के प्रयोग से स्वयं को दिव्यांग व्यक्ति के रूप में चिन्हित करने के लिए आवेदन करने में सहायता करने हेतु एक 'दिव्यांग एप' भी शुरू किया गया था । दिव्यांग व्यक्तियों के केवल सम्पर्क विवरणों को प्रविष्ट करते ही, बूथ स्‍तरीय अधिकारी के पास उनकी दहलीज तक सुविधाएं पहुंचाने के लिए संदेश पहुंच जाता है। दिव्यांग व्यक्ति मतदान के दौरान व्हीलचेयर की भी मांग कर सकते हैं । भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नवीनतम प्रौद्योगिकी के प्रयोग से मौजूदा निर्वाचन प्रणाली का संवर्धन होने के अलावा नूतन निर्वाचन कार्यकलापों का भी प्रचार हुआ है । निर्वाचनों के प्रभावी संचालन के लिए, भारत निर्वाचन आयोग को निर्वाचनों की दिन-प्रतिदिन की प्रक्रियाओं में सुव्यवस्थित प्रौद्योगिकी के प्रयोग को समेकित करने का एक मार्ग प्राप्त हो गया है ।
  5. 2,248 downloads

    No. ECI/PN/19/2019 Dated: 22nd February, 2019 PRESS NOTE Subject: Voter Helpline: 1950 In view of the impending General Elections, the Election Commission of India has strengthened its Voter Helpline to make it easy for the Voters to get authentic information pertaining to their voter registration. The range of services provided by the Helpline Number 1950 have been refurbished and made easily accessible. The enrolled electors in the Electoral Roll can check the details of their personal information, the Polling Station planned for them to visit on the Poll Day and to know the contact details of Booth Level Officers, Electoral Registration Officers and District Election Officers, by using the Voter Helpline Mobile App or through www.nvsp.in Portal or by calling 1950 Helpline Number. In the same line, services through SMS can also be availed by citizens by sending SMS without any cost to 1950. Formats in which such SMSs can be sent are: (i) ECI <EPIC Number> <0 (for reply in English) or <1 (for reply in the regional language). (ii) ECIPS <EPIC Number> This will fetch the address of the Polling Station, where the said EPIC Number bearer needs to go to cast the vote. (iii) ECICONTACT <EPIC Number> This will fetch the reply providing the sender with contact details of Booth Level Officers, Electoral Registration Officers and District Election Officers. Since mere possession of EPIC Card is not enough for the electors but their names should also be there in the electoral roll for enabling them to cast their vote on the poll day, it is necessary that the citizens/electors should check that their names figure in the electoral rolls. If they are not enrolled, they can submit Form 6 online through www.nvsp.in or submit the form through Mobile APP or hard copy to the respective ERO Offices. If there is any correction needed, they can submit Form 8 for necessary correction online through NVSP or through Mobile App or hard copy to respective ERO offices. Also if their addresses are changed within the part, they need to submit Form 8A on the same lines as above. It is also clarified that all these services can be obtained directly or by approaching the concerned officials appointed by the Election Commission of India. ECI has not authorized any intermediaries to provide these services.
  6. From the album: ICT workshop for General Elections 2019

    The Election Commission of India has launched a Voter Verification and Information Programme (VVIP) for citizens for verifications of their names, new registrations, changes in the voter details and corrections in the Voter Id Cards for the upcoming General Elections 2019. ECI has enabled various channels for this VVIP programme. ECI has also set up Contact centers in all districts across India. The Voter Helpline number is 1950 . The Contact Centres are equipped with latest information and telecom infrastructure to help the callers. The VVIP Programme was launched during the 2-day intensive Training-cum-Workshop on the use of Information & Communication Technology for the conduct of General Elections 2019.

    © ECI

  7. 3,945 downloads

    1950 as Voter Helpline across all Districts of India 1950 in all Districts 1950 as a universal number across India Each District will have Voter Helpline number 1950 and the only universal number of Elections Commission of India will be 1950 When a citizen calls 1950 his call will land up in the district from where is he calling He will be greeted in the language of the District. (If he so desires he can call up any District across India by prefixing 1950 with the STD code) Standard Operating Procedure for all Districts All-District Contact centre has uniform Standard Operating Procedure, have a similar FAQ, access to NVSP and ERONET. Thus every citizen will get the same answer from wherever he is calling from. Any Districts upon receiving call will punch every call details on the National Grievance Service Portal. Thus every caller details, nature of calls and resolution status is viewable to every official in the ECI from DEO, CEO and ECI in a single unified interface. Toll-Free in every State / UT CEO Office will have State Contact Centre with a toll-free number whose primary job is to monitor 1950, take escalated calls, calls pertaining to CEO office and work as a control room during election times. If required, the State HQ 1950 IVRS be configured for providing the citizen with a choice for District Contact Centre of HQ or the State Contact Centre.
  8. 456 downloads

    The below instructions are for all DCC, SCC and NCC for incorporation into their IVRS system and Training to agents. This should be followed in all the contact centres. IVRS Introduction: Welcome to (District name/ State name) Voter Helpline of Election Commission of India. a. Press 1 for English b. Press 2 for c. Press 3 for During the waiting time, play the following through IVRS (repeated). The call is important to us. You are in queue at Voter Helpline, please wait. “Now verify your name in the electoral roll, find your Polling Station, correct your entries directly from the mobile app. Search for Voter Helpline in the google play store and download the app.” “Election Commission of India has launched Voter Verification and Information Programme. During this programme, every voter gets the opportunity of verifying their name in the electoral roll, finding out about the polling station, and correcting their entries before the General Elections 2019.” Agent Introduction: Welcome to Voter Helpline of Election Commission of India. How may I help you? May I know your Mobile Number or your email ID? Please tell me your name. Please tell me your State. (The Agent must allow lodging of IFSC (Information, Feedback, Suggestion and Complaints) over the call and must punch every call on the NGSP Portal.) For reference, following URL must be remembered for obtaining the information http://164.100.128.76/contactcenter/Login.aspx: Contact Centre Agent Login to NGSP. https://electoralsearch.in/ for making electoral search for confirmation of the Voter details. https://nvsp.in/Forms/Forms/trackstatus For application status of form submission. http://eronet.ecinet.in/ (ERONET) ‘Voter Helpline’ Mobile App from Google Play store. Link:: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.eci.citizen&hl=en_IN ‘PwD App’ meant for Persons with Disability, downloadable from Google Play Store: Link https://play.google.com/store/apps/details?id=pwd.eci.com.pwdapp&hl=en_IN https://eci.gov.in/faqs http://ecisveep.nic.in In case of complaint registration, the complaint ID should be given over the phone. The agent must never disconnect the call, only a user can disconnect the call. Closing: The agent must say: Thank You for calling (District Name) Voter Helpline of Election Commission of India. It is recommended to download the Election Commission of India official mobile app ‘Voter Helpline’ from google play store which will help you to verify your name in the electoral roll, find your Polling Station, correct your entries directly from the mobile app. Search for Voter Helpline in the google play store and download the app.”
  9. #GoVerify your name and details in the latest Electoral Roll. Call Voter Helpline 1950 or download 'Voter Helpline' Android opp or visit www.nvsp .in If not registered as a voter, #GoRegister on www.nvsp .in or use 'Voter Helpline' opp.
  10. नवीनतम मतदाता सूची में अपना नाम सत्यापित करने के लिए मतदाता हेल्पलाइन मोबाइल ऐप डाउनलोड करें
  11. Download the PwD Mobile app from Android Play store. Specially meant for PwDs to request for voter facilitation.
  12. Use ECI new website https://eci.gov.in or download Voter Helpline android mobile app to view the new website.
  13. Prepare for General Elections 2019. Call your District Contact Centre at 1950
  14. Download Voter Helpline Android Mobile App for all Electoral Services
  15. Know about Electoral Registration Process Get Electoral Services Know your Polling Station Know your Electoral officers Lodge your Grievance Know about Elections Know your EVM Get the answer you have been looking for in your language Download Voter Helpline Mobile App from Google play store

ईसीआई मुख्य वेबसाइट


eci-logo.pngभारत निर्वाचन आयोग एक स्‍वायत्‍त संवैधानिक प्राधिकरण है जो भारत में निर्वाचन प्रक्रियाओं के संचालन के लिए उत्‍तरदायी है। यह निकाय भारत में लोक सभा, राज्‍य सभा, राज्‍य विधान सभाओं और देश में राष्‍ट्रपति एवं उप-राष्‍ट्रपति के पदों के लिए निर्वाचनों का संचालन करता है। निर्वाचन आयोग संविधान के अनुच्‍छेद 324 और बाद में अधिनियमित लोक प्रतिनिधित्‍व अधिनियम के प्राधिकार के तहत कार्य करता है। 

मतदाता हेल्पलाइन ऍप

हमारा मोबाइल ऐप ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ प्‍ले स्‍टोर एवं ऐप स्टोर से डाउनलोड करें। ‘मतदाता हेल्‍पलाइन’ ऐप आपको निर्वाचक नामावली में अपना नाम खोजने, ऑनलाइन प्ररूप भरने, निर्वाचनों के बारे में जानने, और सबसे महत्‍वपूर्ण शिकायत दर्ज करने की आसान सुविधा उपलब्‍ध कराता है। आपकी भारत निर्वाचन आयोग के बारे में हरेक बात तक पहुंच होगी। आप नवीनतम  प्रेस विज्ञप्ति, वर्तमान समाचार, आयोजनों,  गैलरी तथा और भी बहुत कुछ देख सकते हैं। 
आप अपने आवेदन प्ररूप और अपनी शिकायत की वस्‍तु स्थिति के बारे में पता कर सकते हैं। डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। आवेदन के अंदर दिए गए लिंक से अपना फीडबैक देना न भूलें। 

×
×
  • Create New...